ताक-झाँक वाले अंकल टॉम

समीर एक बूढ़ा आदमी और वेलम्मा का नया पड़ोसी वेलम्मा की पार्टी में नहीं आ पाता इसलिए वेलम्मा उसके यहाँ खुद ही जाने का निर्णय लेती है। वहाँ उसे पता चलता है कि समीर अपनी दूरबीन से महिलाओं पर जासूसी करता है और उसका सामना करती है। समीर अपनी स्थिति को बयान करता है और वेलम्मा से अपनी इस आदत को दूर करने में मदद करने का आग्रह करता है।

समीर एक बूढ़ा आदमी और वेलम्मा का नया पड़ोसी वेलम्मा की पार्टी में नहीं आ पाता इसलिए वेलम्मा उसके यहाँ खुद ही जाने का निर्णय लेती है। वहाँ उसे पता चलता है कि समीर अपनी दूरबीन से महिलाओं पर जासूसी करता है और उसका सामना करती है। समीर अपनी स्थिति को बयान करता है और वेलम्मा से अपनी इस आदत को दूर करने में मदद करने का आग्रह करता है।