सेक्स गुरु

युवा बाबू की गर्लफ्रेण्ड तारा उसे सेक्स के द्वारा खुश करना चाहती है. लेकिन दुर्भाग्यवश अनुभव की कमी की वजह से उनका ये आनन्द पीड़ा में बदल जाता है. तब तारा बाबू से उस औरत के पास चलने को कहती है, जिसने उसे सेक्स के बारे में सब कुछ सिखाया : उसकी चंचल शरारती पड़ोसन वेलम्मा, जो तारा को प्यार करने की कला सिखाती है.

युवा बाबू की गर्लफ्रेण्ड तारा उसे सेक्स के द्वारा खुश करना चाहती है. लेकिन दुर्भाग्यवश अनुभव की कमी की वजह से उनका ये आनन्द पीड़ा में बदल जाता है. तब तारा बाबू से उस औरत के पास चलने को कहती है, जिसने उसे सेक्स के बारे में सब कुछ सिखाया : उसकी चंचल शरारती पड़ोसन वेलम्मा, जो तारा को प्यार करने की कला सिखाती है.